चावल के आटे का मोदक - Chawal Ke Aate Ka Modak Recipe In Hindi

चावल के आटे का मोदक (Chawal Ke Aate Ka Modak Recipe In Hindi

Chawal Ke Aate Ka Modak Recipe In Hindi

मोदक हमारे ईस्ट देव भगवान गणेश का बहुत प्रिय भोजन हैं ये महाराष्ट्र में बहुत लोकप्रिय हैं गणेश चतुर्थी पर ये महाराष्ट्र के हर घर घर में बनाया जाता हैं और सारे दुकानों मैं भी आसानी से मिल जाता हैं। 

सामग्री:- चावल के आटे का मोदक(chawal Ke Aate Ka Modak Recipe) बनाने में लगने वाली सामग्री 

  • चावल का आटा -2 कप
  • गुड़ -11/2 कप(बारीक़ किया हुआ )
  • काजू -4 टेबल स्पून (टुकड़ो में टुटा हुआ )
  • बादाम -4 टेबल स्पून (टुकड़ो में टुटा हुआ )
  • किशमिश -15 -20 दाने
  • खसखस -1 टेबल स्पून
  • इलाइची पाउडर -1 टेबल स्पून
  • कच्चा नारियल -5 टेबल स्पून (बारीक़ कद्दूकस किया हुआ )
  • घी -1 टेबल स्पून
  • कुकिंग टाइम -45 मिनट
  • मोदक की संख्या -21

इसे भी पढ़ें: तरह तरह के मोदक बनाने की रेसिपी -Modak Recipe In Hindi...

विधि:- चावल के आटे का मोदक(chawal Ke Aate Ka Modak Recipe) बनाने की विधि 

  1. चावल के आटे का मोदक(chawal Ke Aate Ka Modak) बनाने के लिए सबसे पहले एक पैन में  एक ग्लास पानी डालकर गर्म कर लेंगे। अब चावल के आटे को एक  बॉउल में डालकर गर्म पानी डालते हुए अच्छे से मिलते हुए नरम और मुलायम डो लगा लें। डो में कोई भी गांठ नहीं होनी चाहिए डो बिलकुल चिकना और मुलायम होना चाहिए। तथा अब डो को किसी हल्की गीली कपड़े से ढक कर 15 मिनट के लिए रख दें।  
  2. तथा अब चावल के आटे का मोदक(chawal Ke Aate Ka Modak) बनाने के लिए भरावन की तैयारी कर लेते हैं।अब एक पैन लेकर गैस पर रख कर गैस ऑन कर पैन को गर्म करेंगे और उसमें गुड़ दाल कर लो फ्लेम पर 2 से 4 मिनट के लिए गुड़ को बराबर चलते हुए गुड़ को मेल्ट करेंगे। तथा अब इस गुड़ में नारियल ,काजू ,बादाम,खसखस ,इलाइची पाउडर डालकर अच्छे से मिला लेंगे। . 
  3. और लो फ्लेम पर मिश्रण का सारा पानी सुख कर गाढ़ा होने तक पकाएंगे लगभग 5 से 7 मिनट में सारा पानी सूखा कर मिश्रण गाढ़ा हो जायेगा तो गैस ऑफ कर देंगे। तथा मिश्रण को हल्का ठंडा होने की लिए 10 मिनट के लिए रख देंगे। 
  4. अब डो हमारा रेस्ट करके तैयार हैं तो इसमें हाफ टी स्पून घी लगा कर आटे से बने डो को गुंथ लेंगे तथा हाथ पर चिकनाई लगाते हुए आटे से  बराबर बराबर लोई बना लेंगे। लोई बिलकुल चिकनी होनी चाहिए कहीं पर कोई दरार नहीं होनी चाहिए। 
  5. अब या तो चिकनाई के सहायता से आप इसे हल्का सा बेल लें या हाथ पर ही चिकनाई लगा कर उंगलियों की मदद्त से गोल बना लें। तथा अब हाथ या मोदक बनाने की सांचे की सहायता से ठंडा मिश्रण का एक चम्मच डालते हुए मोदक बना लें। 
  6. और अब ऐसे ही सारा मोदक तैयार कर ले या तो मोदक सांचे की मदद्त से या हाथ से ही इसे  गोल बनी पूरी में भरावन डालकर मोदक का शेप दें। ऐसा करते हुए हम सारा मोदक बना लेंगे। अब मोदक स्टीम करने के लिए स्टीम मेकर में दो गिलास पानी डालकर गैस पर रख देंगे। 
  7. तथा जब पानी से उबाल आने लगें तो स्टीमर के ऊपर केले के पत्ते पर मोदक को रख कर स्टीम कर लेंगे लगभग 15 मिनट में मोदक स्टीम होकर तैयार हो जाता हैं। ऐसे करते हुए आप सारे मोदक को स्टीम कर लें। अगर आप के पास स्टीम मेकर नहीं हैं तो आप किसी बर्तन में पानी गर्म करे तथा उसके ऊपर जाली स्टैंड लगा कर चलनी में मोदक को रख कर किसी बर्तन से ढक कर 10 से 15 मिनट तक पकाये। 
  8. और अब पके मोदक को प्लेट में  निकाल लें  ऐसा करते हुए सारे मोदक पका लेंगे। अब हमारा चावल के आटे का मोदक(chawal Ke Aate Ka Modak) बनाने के तैयार हैं। आप इससे भगवान गणेश का भोग लगाएं और फिर प्रसाद सब को बाँटे। 

नोट:- चावल के आटे का मोदक(chawal Ke Aate Ka Modak Recipe) बनाने में ध्यान देने वाली बातें 

  1. मोदक हमारे भगवान गणेश जी का बहुत प्रिय भोग हैं। और ये महाराष्ट्र में बहुत लोकप्रिय हैं गणेश चतुर्थी पर ये महाराष्ट्र के हर घर घर में बनाया जाता हैं। और सारे दुकानों मैं भी आसानी से मिल जाता हैं। इसे लोग बहुत पसंद करते हैं. दिवाली (Diwali Recipe)तथा गणेश चतुर्थी पर भगवान  गणेश को भोग लगाते हैं। 
  2. और ये बहुत आसान तरीके से बनाया जाता हैं तल कर, बिना तले ,स्टीम कर के तथा मैदे ,गेंहु के आटे, तथा चावल के आटे से भी बनता हैं इसमें बहुत फ्लेवर के भी बनते हैं जैसे चॉकलेट ,स्टॉबेरी, केसर ,मावा ,केवल ड्राई फ्रूट से भी बनता हैं इत्यादि। 
  3. आप भी चाहे तो गणेश चतृर्थी पर मोदक बना कर गणेश जी को भोग लगाए और खुश करें क्योंकि ये उनका प्रिय भोग हैं आप चाहें तो इसमें से चीनी को स्किप कर सकते हैं क्योंकि खोवा तथा ड्राई फ्रूट अपना मिठास होता हैं। 
Rate It:
Average:5/5 (1 Votes)

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

–>